धार्मिक शिविरों से भाग लेने से बच्चों की सोच बनती है सकारात्मक- मधु पाटनी

अजमेर। दिगम्बर जैन महासमिति महिला एवम युवामहिला संभाग अजमेर की पंचशीलनगर इकाई के सानिध्य में श्रमण संस्कृति के अंतर्गत तेरह मई से धार्मिक पाठशाला में संस्कार शिविर लगाया जा रहा है जिसमे बीस से अधिक बालक बालिकाओ ने णमोकार महामंत्र चौबीस भगवान के नाम चिन्ह सहित पहला भाग दूसरा भाग आदि का ज्ञान दिया जा रहा है ।पंचशील नगर इकाई अध्यक्ष प्रीति गदिया व धार्मिक मंत्री विभा बड़जात्या ने बताया कि बच्चों को रोज प्रभावना में पाठ्यसामग्री उपहार स्वरूप दी जा रही है प्रशिक्षिका वंदना गंगवाल ने बताया कि जैन मंदिर में महिलाओं द्वारा छह ढाला का अर्थ सहित वाचन किया जा रहा है जिसमे समाज की पंद्रह से अधिक महिलाएं पुण्य का अर्जन कर रही हैं। समिति कोषाध्यक्ष भावना बाकलीवाल व महिला प्रकोष्ठ मंत्री नवल छाबड़ा ने बताया कि आगामी बाइस मई को सभी की परीक्षा ली जा रही हैं जिसमे योग्यतानुसार विजेताओं को समिति द्वारा पुरस्कृत कर सम्मानित किया जाएगा। डंडइस अवसर पर समिति संरक्षक निर्मला पांड्या सूर्यकांता जैन महिला संभाग अध्यक्ष शिखा बिलाला व मंत्री सोनिका भैंसा द्वारा बच्चो व महिलाओ से धार्मिक प्रश्न पूछे गए सही जवाब देने वालो को पुरस्कार प्रदान किये गए । युवामहिला संभाग अध्यक्ष मधु पाटनी ने इस अवसर पर कहा कि बच्चों के धार्मिक शिविरों में भाग लेने से निश्चित ही उनकी सोच सकारात्मक बनती है व जानकारी दी कि अजमेर शहर की विभिन्न इकाइयों द्वारा लगाए गए धार्मिक शिविर का आगामी छबीस मई को ज्ञानोदय तीर्थक्षेत्र नारेली में प्रभारी सुकान्त भईया के सानिध्य में सामूहिक रूप से समापन किया जाएगा जिसमे 8 वर्ष से अधिक उम्र के बच्चे कलशाभिषेक, पूजन,मंगलाचरण व नृत्यनाटिका में भाग लेंगे। इस अवसर पर समिति संरक्षक निर्मला पांड्या,सूर्यकांता जैन पंचशीलनगर इकाई की परम संरक्षक मधु भैंसा,महिला संभाग अध्यक्ष शिखा बिलाला, युवामहिला संभाग अध्यक्ष मधु पाटनी मंत्री सोनिका भैंसा कोषाध्यक्ष सुषमा पाटनी,भावना बाकलीवाल,महिला प्रकोष्ठ मंत्री नवल छाबड़ा,पंचशीलनगर इकाई अध्यक्ष प्रीति गदिया धार्मिक मंत्री विभा बड़जात्या सहित समिति व इकाई के पदाधिकारी मौजूद रहे।